Breaking News

किसान विरोधी विधेयकों का विश्वविद्यालय के छात्रों ने किया विरोध

*अनशन स्थल पर किसान कानून को बताया काला कानून और इसे वापस लेने की उठी मांग । छात्रसंघ बहाली के लिए चल रहे समाजवादी छात्रसभा के नेतृत्व में छात्र नेता अजय यादव सम्राट के अगुवाई में पूर्णकालिक अनशन का आज 66वा दिन था ।

अनशन स्थल पर बोलते पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष और समाजवादी पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता सुश्री रिचा सिंह ने कहा कि अधिकतर इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्र ग्रामीण परिवेश से आए हैं और किसानों के बेटे हैं और अगर इसी तरह काला किसान कानून लागू रहा तो छात्र अपना अध्ययन अध्यापन स्थगित करने को मजबूर हो जाएंगे ।
इसलिए उन्होंने कहा कि जनतंत्र और जनहित में यही होगा कि सरकारी एक काला किसान कानून वापस ले ले अनशन स्थल पर बोलते हुए छात्र नेता अजय सम्राट ने कहा कि जब देश के 70 से 80 फ़ीसदी आबादी किसानी से पलती है तो सरकार को ऐसा कानून बनाने के पहले 100 बार सोचना चाहिए।

इस मौके पर वरिष्ठ छात्र नेता शुशील कुशवाहा,छात्र नेता राहुल पटेल,मो मोबाशीर हारुन,नवनीत यादव,मो.मसूद,हरेंद्र यादव,आनंद संसद, सत्यवेंद्र आज़ाद,मो.ओबादा,मयंक प्रसाद,चंदन चौधरी, संदीप पटेल विधायक, रजनीश यादव,सुनील पटेल,आयुष प्रियदर्शी,शिव बली,सलमान,यशवंत आदि लोग उपस्थित रहे।

Check Also

सिराथू तहसील में वितरण किया गया आबादी में बने घरों का स्वामित्व प्रमाणपत्र

🔊 इस खबर को सुने Sarvar Ali   सिराथू कौशाम्बी । सिराथू तहसील सभागार में …